अवधी गद्य में अनंत शक्ति है : त्रिलोचन

बरवै छंद मा ‘अमोला’ लिखय वाले अवधी अउ हिन्दी कय तरक्कीपसंद कवि तिरलोचन से अवधी कथाकार भारतेन्दु मिसिर बतकही किसे

Read more

मातरी भासा वाली बात हिन्दी मा भला कहाँ..!

विजयदान देथा राजस्थानी साहित्य   कै बड़वार नाम हुवैं। यै सिरफ राजस्थानिन कै नाय बल्कि संपूर्ण भारतीय साहित्य मा कथा साहित्य

Read more

बतकहीं : डॉ. श्यामसुन्दर मिश्र “मधुप” से बातचीत पर आधारित एक संक्षिप्त प्रस्तुति..!

सीतापुर(उ.प्र.) जिले के सरैना-मैरासी ग्राम में सन्‌ १९२६ को जन्मे डॉ. श्यामसुन्दर मिश्र “मधुप” जी समकालीन अवधी साहित्य के विशिष्ट

Read more